logo

दुल्हे को अर्द्धविक्षिप्त बता दुल्हन ने किया शादी से इंकार

शादी के लिए दुल्हन के घर पहुंची बारात को बैरंग वापस लौटना पड़ा । मंडप पर बैठी दुल्हन ने शादी से इंकार करते हुए उठ कर चली गयी। बताया जाता है कि शादी की रस्में धूमधाम से हो रही थी, वर पक्ष को इस बात का जरा भी अंदेशा नहीं रहा होगा की उन्हें बिना दुल्हन के ही बारात वापस ले जाना पड़ेगा। नवादा नगर थाना क्षेत्र के भगवानपुर से बारात शेखपुरा जिला अन्र्तगत महुली थाना क्षेत्र के चोर दरगाह गांव गयी थी। वरमाला की रस्म के बाद मंडप पर बैठे दुल्हे की तबीयत अचानक बिगड़ गयी और उसके शरीर में जोर से कंपन होने लगी। जिसके बाद शादी की रस्मों को पूरा करने के लिए साथ बैठी दुल्हन ने दुल्हे को अर्द्ध विक्षिप्त बताते हुए शादी से इनकार कर दिया । वह मंडप से उठकर चली गयी। जिसके बाद आनन फानन में दुल्हे को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया।

– रिती रिवाजों के अनुसार तय की गयी शादी
प्राप्त जानकारी के अनुसार नगर थाना क्षेत्र के भगवानपुर निवासी चंदेश्वर चाैधरी के पुत्र सुधीर चाैधरी की शादी शेखपुरा जिला अन्र्तगत महुली थाना क्षेत्र के चोर दरगाह निवासी बनारसी चाैधरी की पुत्री रानी कुमारी के साथ होना तय हुआ था। शादी के पूर्व नगर के शोभ मंदिर में दोनो परिवारों की उपस्थिती में लड़का-लड़की को देखने की औपचारिकतायें भी पूरी की गयी। शादी के लिए लड़का-लड़की व दोनों परिवारों की रजामंदी के बाद शादी की तैयारियां होने लगी।

– बारातियाें का हुअा था भव्य, जयमाला भी ठीक से हुअा
20 फरवरी को वर पक्ष के लोग बारात लेकर वधु पक्ष के घर चोर दरगाह पहुंचे । जहां वधु पक्ष की ओर से बारातियों का स्वागत सत्कार किया गया। परंपरा के अनुसार बारात निकली और दुल्हन के दरवाजे पर बारातियों का स्वागत हुआ और वरमाला की रस्म अदायगी भी हुई। जिसके बाद शादी के लिए वर वधु शादी के मंडप पर बैठे । इसी बीच मंडप पर बैठे दुल्हे के शरीर जोरों से कांपने लगा और वह असंतुलित होकर मंडप पर गिर पड़ा। दुल्हे के मंडप में गिरते ही मंडप पर बैठी दुल्हन भी घबरा गयी और उसने दुल्हे को अर्द्ध विक्षिप्त बताते हुए शादी से इंकार करते हुए मंडप से उठकर चली गयी। दोनों पक्षों के परिजनों के काफी मान मनौवल के बाद भी दुल्हन शादी के लिए राजी नहीं हुई। अन्ततः दुल्हे को बिना शादी रचाये बारात वापस लेकर लौटने को विवश होना पड़ा। जिसके बाद परिजनों ने दुल्हे को इलाज के लिए सदर अस्पताल मेें भर्ती कराया।

सम्बंधित खबर